तुम नही जानते

तुम नही जानते…

Copy Sad Shayari

तुम नही जानते मेरे दिल पर क्या गुज़रती है
जब तुम पास से कुछ कहे बिना गुज़र जाते हो,
हम तुम्हें नज़रों के सामने भी नज़र नहीं आते
और हमें भीड़ में भी तुम्ही तुम नज़र आते हो

 ~