Hindi Shayari, Shayad Ab Dushman

Hindi Shayari, Shayad Ab Dushman…

Copy Hindi Shayari

शायद अब दुश्मन भी मुरीद हैं हमारे,
जो वक़्त-बेवक़्त हमारी ही चर्चा किया करते हैं,
छुपा के खंजर बगल में हमारी गली से गुज़रते हैं,
और मिलने पर सलाम-नमस्ते किया करते हैं।

Hindi Sad Daaru Shayari

Hindi Sad Daaru Shayari

Copy Hindi Shayari

दिल जब दर्द से सहम जाता है तो पी लेता हूँ,
चाह के भी जब मुस्कुरा नहीं पाता तो पी लेता हूँ,
यूँ तो कहीं जाने-पहचाने चेहरे है चारों तरफ मगर,
अपना जब कोई नज़र नहीं आता तो पी लेता हूँ।